सीतामढ़ी: कैदी रेप कांड पर राज्य महिला आयोग ने लिया स्वत: संज्ञान, मुजफ्फरपुर जाएगी टीम - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

सीतामढ़ी: कैदी रेप कांड पर राज्य महिला आयोग ने लिया स्वत: संज्ञान, मुजफ्फरपुर जाएगी टीम

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
सीतामढ़ी: कैदी रेप कांड पर राज्य महिला आयोग ने लिया स्वत: संज्ञान, मुजफ्फरपुर जाएगी टीम
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18 Bihar
Updated: November 30, 2018, 1:46 PM IST
सीतामढ़ी जेल की एक महिला कैदी से रेप की घटना सामने आने के बाद बिहार सरकार कठघरे में है. वहीं इस मामले को  बिहार राज्य महिला आयोग ने काफी गंभीरता से लिया है. आयोग ने स्वतः संज्ञान लेते हुए इसकी पूरी जानकारी लेने का फैसला किया है. महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणी मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम सीतामढ़ी जाएगी. ये टीम मुजफ्फरपुर में एसकेएमसीएच भी जांच के लिए जाएगी जहां इस घटना के होने की बात सामने आ रही है.  वे सिविल सर्जन एवं संबंधित अधिकारियों से भी घटना की जानकारी लेंगी.

आपको बता दें कि महिला कैदी के साथ रेप तब हुआ जब वह इलाज के सिलसिले में सीतामढ़ी से मुजफ्फरपुर के एक अस्पताल में इलाज के लिए पहुंची थी. घटना 14 नवंबर की है, लेकिन ये 22 नवंबर को सामने आई है. हालांकि मामले में पुलिस कार्रवाई भी शुरू हो चुकी है. सीतामढ़ी जेल अधीक्षक के पत्र के आलोक में पीड़िता का बयान लिया गया था. इसी आधार पर सीतामढ़ी के डुमरा थाने में मामला दर्ज कराया गया था. इसके बाद बयान के साथ मुजफ्फपुर के अहियापुर थाने को भेज दिया गया था. अब अहियापुर थाना पुलिस ने गुरुवार से ही इसका अनुसंधान शुरू कर दिया है.

ये भी पढ़ें-  महिला कैदी से दुष्कर्म पर विपक्ष का तंज, 'बिहार में बहार नहीं दुराचार है, दु:शासन की सरकार है'

गौरतलब है कि सीतामढ़ी जेल में वर्ष 2017 के 30 दिसम्बर को अपहरण के आरोप मे एक महिला बंदी को जेल लाया गया था. महिला बंदी दरभंगा जिले की रहने वाली है. जिसे नानपुर थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा है कि वह मिर्गी की मरीज है. जेल में तबीयत बिगड़ने के बाद उसे सीतामढ़ी जेल से इलाज के लिये 9 नवम्बर को जिले के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके बाद चिकित्सकों ने 11 नवम्बर को उसे मुजफ्फपुर रेफर कर दिया था. 22 नवंबर को तबीयत ठीक हो जाने पर महिला कैदी को वापस जेल भेज दिया गया जहां उसने दो लोगों द्वारा दुष्कर्म की बात बताई. जानकारी सामने आने के बाद बाद जेल प्रशासन ने तत्काल महिला का बयान सीतामढ़ी के डुमरा थाने मे दर्ज कराया था.

इनपुट- ज्योति मिश्रा

ये भी पढ़ें- विधानसभा पहुंचे तेजप्रताप का सरकार पर हमला, घर के सवाल पर साधी चुप्‍पी

और भी देखें

Updated: November 28, 2018 10:43 PM ISTJDU का पलटवार, 'तेजस्वी यादव को किसने रोका है'