डाटा के बदले पैसे कमाने की योजना बना रहा था फेसबुक! - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

डाटा के बदले पैसे कमाने की योजना बना रहा था फेसबुक!

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
डाटा के बदले पैसे कमाने की योजना बना रहा था फेसबुक!
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: November 29, 2018, 9:40 PM IST
फेसबुक ने बुधवार को कहा कि उसने सोशल नेटवर्क पर डाटा हासिल करने के लिए एप्लीकेशन निर्माताओं से कीमत वसूलने पर विचार किया था. हालांकि फेसबुक ने इस बात से इनकार किया कि उसने अब तक किसी को डाटा बेचा है. इस सोशल नेटवर्किंग साइट पर आरोप लगते रहे हैं कि उसकी रुचि निजता की सुरक्षा की बजाय पैसा बनाने में है.

न्यूज एजेंसी एएफपी के अनुसार, फेसबुक में डेवलपर प्लेटफॉर्म और प्रोग्राम के निदेशक कोंसटैंटिनोस पैपामिलटियाडिस ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'हम साफ कर देना चाहते हैं कि फेसबुक ने किसी का डाटा कभी नहीं बेचा है.' उन्होंने कहा, 'हमारा एपीआई हमेशा से मुफ्त रहा है और इनके इस्तेमाल के लिए हमें कभी डेवलपर्स को भुगतान की जरूरत नहीं पड़ी. न तो सीधे तौर पर या न ही विज्ञापन खरीदकर.'

'वॉल स्ट्रीट' पत्रिका की रिपोर्ट के अनुसार आंतरिक ई-मेल यह संकेत देते हैं कि फेसबुक यूजर डाटा तक पहुंच की इच्छुक कंपनियों से शुल्क लेने पर विचार कर रहा है. 'पिकिनिस' नामक ऐप के नाकाम रचनाकार 'सिक्स4थ्री' की ओर से 2015 में फेसबुक के खिलाफ दायर एक मुकदमे में इस बात का जिक्र हुआ है.

ये भी पढ़ें: Facebook के बाद अब इस कंपनी ने किया 18 मिलियन यूजर्स के प्राइवेट डेटा का गलत इस्तेमाल, जाने क्या है मामला

इस एप्लीकेशन से यूजर फेसबुक तस्वीरों का पता लगा सकते हैं और एपीआई फीचर का फायदा उठाकर इस ऐप से सोशल नेटवर्क पर यूजर के साथ साथ उनके दोस्तों का भी डाटा हासिल किया जा सकता है. मुकदमे में फेसबुक पर आरोप लगाया गया है कि उसने यूजर डाटा को लेकर अपनी शक्ति का गलत इस्तेमाल किया. हालांकि मामले में पेश अधिकतर दस्तावेजों को कैलिफोर्निया के जस्टिस ने फेसबुक के अनुरोध पर सील कर दिया है.

ये भी पढ़ें: HIV किलर की कहानी : बहस ये है कि आरोपी मेजर को सज़ा क्या दी जाए?

कुछ ई-मेल में इस बात के संकेत हैं कि फेसबुक के कर्मचारियों ने विज्ञापनदाताओं को अधिक धन के बदले यूजर की सूचना तक पहुंच बढ़ाने पर चर्चा की.

और भी देखें

Updated: November 29, 2018 12:44 PM ISTकौन हैं बारतोलोमिओ एस्तेबन मुरिलो, जिन्हें Google ने किया याद