फेसबुक ने बदली विज्ञापन पॉलिसी, अब देना होगा आईडेंटिटी और लोकेशन प्रूफ - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

फेसबुक ने बदली विज्ञापन पॉलिसी, अब देना होगा आईडेंटिटी और लोकेशन प्रूफ

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
फेसबुक ने बदली विज्ञापन पॉलिसी, अब देना होगा आईडेंटिटी और लोकेशन प्रूफ
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: December 7, 2018, 12:53 PM IST
2019 लोकसभा चुनाव से पहले प्रचार में पारदर्शिता लाने के लिए फेसबुक ने सभी एडवर्टाइजर्स को अपनी पहचान और लोकेशन बताने का निर्देश दिया है. कंपनी ने कहा है कि इंस्टाग्राम और फेसबुक पर ऐसे विज्ञापन देने वालों को पहले अपनी पहचान बतानी होगी.

फेसबुक ने कहा है कि अगले साल की शुरुआत में वो सभी पॉलिटिकल एडवर्टीजमेंट के बारे में जानकारी देते हुए डिसक्लेमर दिखाना शुरू करेगा. इसके अलावा एक 'ऑनलाइन सर्चेबल ऐड लाइब्रेरी' भी खोली जाएगी, जिसमें विज्ञापन पर हुए खर्चे और इस विज्ञापन को किसने देखा, उस पर कितने इम्प्रेशन आए, इसकी जानकारी भी दी जाएगी.

ये भी पढ़ेंः Facebook पर दिखने वाले Videos से हो गए हैं परेशान, तो ऐसे करें बंद

फेसबुक ने अपने ब्लॉग पोस्ट में जानकारी देते हुए कहा कि पॉलिटिकल एडवर्टीजमेंट वो ही एडवर्टाइजर्स चला सकते हैं जिन्होंने आइडेंटिफिकेशन ऑथेराइजेशन प्रॉसेस को पूरा किया हो और उस पर डिसक्लेमर भी हो. इसमें यह भी कहा गया कि एडवर्टाइजर्स को ऑथेराइज करने और ऐड्स में पारदर्शिता लाने पर हम भारत के चुनाव में विदेशी हस्तक्षेप को रोक सकेंगे.

कंपनी ने कहा कि यह जरूरी है कि लोग इस बारे में जानें कि जो विज्ञापन वे देख रहे हैं वो किसने दिया है इसलिए हम फेसबुक और इंस्टाग्राम के एडवर्टीजमेंट को मैनेज करने के तरीके में बदलाव कर रहे हैं. भारत के अलावा फेसबुक ने अमेरिका, ब्राजिल और लंदन में भी यह बदलाव किया है.

ये भी पढ़ेंः WhatsApp की तरह अब Facebook मैसेंजर पर भी Delete कर सकेंगे भेजे गए Message

फेसबुक के अनुसार अब जो भी पॉलिटिकल एडवर्टीजमेंट चलाना चाहता है उसे अपनी आइडेंटिटी और लोकेशन बतानी होगी. इस प्रक्रिया में कुछ हफ्ते लगेंगे इसलिए फेसबुक ने कहा है कि वे आज से ही अपने फोन और कंप्यूटर की मदद से अपने आइडेंटिटी और लोकेशन को वेरिफाई कराने के लिए प्रूफ देना शुरू कर सकते है. इससे उन्हें अगले साल परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा.

Loading...

और भी देखें

Updated: December 07, 2018 11:05 AM ISTVIDEO: आप पर नज़र रखता है YouTube, बता देगा कितना टाइम कर रहे हैं खर्च