एडिलेड में टीम इंडिया ने की 'छेड़खानी', अब मिलेगी ये 'सजा' - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

एडिलेड में टीम इंडिया ने की 'छेड़खानी', अब मिलेगी ये 'सजा'

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, मुरली विजय और के एल राहुल...ये टीम इंडिया के वो बल्लेबाज हैं जिनकी क्लास और तकनीक की दुनिया कायल है. एक से बढ़कर एक रिकॉर्ड इनके नाम है, लेकिन जैसे ही ये बल्लेबाज विदेशी पिच और अच्छे गेंदबाजों के सामने उतरते हैं, इनकी बल्लेबाजी तकनीक को कुछ हो जाता है. भारत में मैराथन पारियां खेलने वाले ये बल्लेबाज विदेश में आयाराम-गयाराम बन जाते हैं. इन चारों खिलाड़ियों के टेस्ट मैचों को मिला दिया जाए तो इन्हें कुल 218 टेस्ट मैचों का अनुभव है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट में इनके आउट होने का तरीका एक नौसिखिए जैसा था.

एडिलेड टेस्ट में सबसे पहले पैवेलियन लौटने वाले बल्लेबाज के एल राहुल थे. दूसरे ही ओवर में हेजलवुड की एक मामूली गेंद राहुल का विकेट ले गई. वो गेंद मामूली इसलिए थी क्योंकि गेंद चौथे स्टंप से भी बाहर थी, जिसे राहुल छोड़ भी सकते थे. लेकिन राहुल ने एक अधूरे मन से ड्राइव किया और गेंद सीधे स्लिप में फिंच के हाथों में समा गई.


Loading...


मुरली विजय प्रैक्टिस मैचों में और काउंटी क्रिकेट में तो रनों का अंबार लगाते हैं लेकिन जैसे ही कोई अच्छा बॉलिंग अटैक सामने आता है उनका खेलने का अंदाज ही बदल जाता है. मुरली विजय ने भी स्टार्क की बाहर जाती गेंद के साथ छेड़खानी की और उनका भी खेल खत्म हो गया.

एक साल में चार दोहरे शतक जमाने वाले कप्तान विराट कोहली ने बड़ी मुश्किल से ऑफ स्टंप के बाहर गेंद छेड़ने की आदत से छुटकारा पाया था लेकिन एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में वो इस गलती को कर बैठे. पैट कमिंस की 5वें स्टंप की गेंद को उन्होंने ड्राइव करने का प्रयास किया और उस्मान ख्वाजा ने जबर्दस्त कैच लपक विराट का खेल खत्म कर दिया.

उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी कप्तान साहब के नक्शे-कदमों पर चलने में कोताही नहीं बरती. 30 बॉल तक अजिंक्य रहाणे ने बड़ी समझ-बूझ से बल्लेबाजी की लेकिन अंत में उन्होंने हेजलवुड की बेहद ही बाहर जाती गेंद को उन्होंने छेड़ दिया और वो भी 13 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए.

एडिलेड में टीम इंडिया के टॉप 4 बल्लेबाज महज 122 गेंदों तक ही विकेट पर टिके और चारों मिलकर 41 रन ही जोड़ पाए. अब अगर किसी भी टीम का टॉप ऑर्डर टेस्ट मैच में ऐसी खराब शुरुआत दिलाएगा तो नतीजा किस टीम के हक में जाएगा, इसका अंदाजा आप खुद लगा सकते हैं.