लोकसभा की रणभेरी: पीएम मोदी के सियासी संदेश में BJP कैडर्स के लिए थी ये चेतावनी - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

लोकसभा की रणभेरी: पीएम मोदी के सियासी संदेश में BJP कैडर्स के लिए थी ये चेतावनी

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर http://bit.ly/2EG1SuE
दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं में जोश भरने की पूरी कोशिश की. उन्होंने देश भर के सभी कार्यकर्ताओं को बिना रुके, बिना थके 2019 की लड़ाई तक काम करने के लिए गुरु-मंत्र दिया. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री और पार्टी के संरक्षक अटल बिहारी वाजपेयी का हवाला देते हुए कैडर को चेतावनी दी थी कि संयम के साथ बैठने से सत्ता में वापसी नहीं होगी. उन्होंने स्वामी विवेकानंद की बातों को दोहराते हुए कहा, ‘उठो, जागो और लक्ष्य की प्राप्ति तक मत रुको.'

पीएम मोदी ने कहा, 'अगर अटल जी दूसरे कार्यकाल में भी प्रधानमंत्री बन गए होते तो आज यह देश नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया होता. उन्होंने मायावती और अखिलेश के गठबंधन पर कहा कि आगामी आम चुनाव में बीजेपी का रास्ता रोकने के लिए 'महागठबंधन' किया जा रहा है.'

विपक्षी दलों के महागठबंधन की पहल पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा कि जो राजनीतिक दल एक जमाने में कांग्रेस के तौर तरीकों को सही नहीं मानते थे, वो आज एकजुट हो रहे हैं. जब कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता जमानत पर हैं, तब ये दल कांग्रेस के सामने सरेंडर कर रहे हैं. ये देश के मतदाताओं को धोखा देने का प्रयास है.

पीएम मोदी ने कहा कि राजनीति विचारों पर की जाती है. गठबंधन विजन पर बनते हैं, लेकिन ये पहला अवसर हैं जब ये सब राजनीतिक दल सिर्फ एक व्यक्ति को हराने के लिए एकजुट हो रहे हैं.

मोदी ने कहा कि सामान्य श्रेणी के गरीब युवाओं को शिक्षा और सरकारी सेवाओं में 10% आरक्षण नए भारत के आत्मविश्वास को आगे बढ़ाने वाला है. ये सिर्फ आरक्षण नहीं है, बल्कि एक नया आयाम देने की कोशिश है.

ये भी पढ़ें: PM मोदी, राहुल गांधी और मायावती ने किया 2019 के चुनाव का शंखनाद

उन्होंने कहा, 'आज के युवा को पता है कि उसकी आवाज सुनी जा रही है. वह जानता है कि उसके देश की शान मजबूत हो रही है. वह जानता है कि देश की आर्थिक और सामरिक हैसियत मजबूत हो रही है.' प्रधानमंत्री ने जोर दिया कि पहले से जिनको आरक्षण की सुविधा मिल रही थी उनके हक़ को छेड़े बिना, छीने बिना भाजपा सरकार द्वारा सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण का प्रावधान किया गया है.

Loading...


मोदी ने कहा, 'हम मजबूत सरकार चाहते हैं ताकि किसानों को फसलों का उचित दाम मिलें, वे (विपक्ष) मजबूर सरकार चाहते हैं ताकि यूरिया घोटाला किया जा सके.' उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि आयुष्मान भारत जैसी मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं देने वाली योजनाएं चलाई जा सके. लेकिन, वे ऐसी सरकार चाहते हैं ताकि स्वास्थ्य सेवाओं में घोटाला किया जा सके, एंबुलेंस घोटाला किया जा सके.

ये भी पढ़ें: कौन होगा नेता प्रतिपक्ष? रविवार को बीजेपी विधायक दल की बैठक में होगा फैसला

किसानों को गुमराह करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया. उन्होंने कहा, पहले की सरकारों ने किसानों की योजनाओं को फाइलों में बंद कर रखा था लेकिन उन्हें कभी लागू नहीं किया. हमने स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया और एमएसपी में 1.5 गुना का बढ़ोत्तरी दर्ज की गई.

प्रधानमंत्री ने दूसरे कार्यकाल की मांग करते हुए कहा कि वे यह नहीं कहते कि सभी लक्ष्य पूरे कर लिए गए हैं, अभी भी बहुत कुछ करना है. लेकिन वह कहना चाहते हैं कि उन्होंने कमियों को दूर करने का ईमानदारी से प्रयास किया है. चुनौतियां चाहे जितनी भी बड़ी हो, प्रयास उतने ही ईमानदार होंगे. कोशिशों में कोई कमी नहीं होगी.

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बिना बीजेपी की पहली कार्यकारिणी में मोदी ने उनको याद करते हुए कहा, 'वह इस कार्यकारिणी को देखकर संतुष्ट महसूस कर रहे होंगे.'

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 आम चुनाव का आगाज करते हुए कहा कि यह लड़ाई सत्ता और संविधान में विश्वास रखने वालों के बीच है. विपक्ष के नेता अपने परिजनों को फायदा पहुंचाना चाहते हैं जबकि बीजेपी सभी के विकास में विश्वास करती है. पीएम मोदी ने कांग्रेस के घोटालों का हवाला देते हुए कहा कि उन्होंने देश के साथ विश्वासघात किया है.

प्रधानमंत्री ने सपा और बसपा पर हमला करते हुए कहा, 'वे एक 'कमजोर' सरकार बनाने के लिए एक साथ आ रहे हैं. देश के विकास, सुरक्षा, गरीब कल्याण, किसान हित के लिए आने वाले चुनाव में देश में ‘मजबूत सरकार’ चुनने की वकालत की. (एजेंसी इनपुट के साथ)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स