पिता की मौत के बाद घर पहुंचा बेटा, अंतिम संस्कार में शामिल होने से रोका गया - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

पिता की मौत के बाद घर पहुंचा बेटा, अंतिम संस्कार में शामिल होने से रोका गया

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
पिता की मौत के बाद घर पहुंचा बेटा, अंतिम संस्कार में शामिल होने से रोका गया
असम के विश्वनाथ जिले के गरेहगी गांव में रहने वाले रुपज्योति भट्टाचार्य के पिता का निधन हो गया था.
News18.com
Updated: March 13, 2019, 10:05 PM IST
हिंदू धर्म शास्त्रों में बेटे को मोक्ष प्राप्ति का साधन माना गया है. आम धारणा के अनुसार माता-पिता के देहांत के बाद अंतिम संस्कार, पिंड दान और श्राद्ध की सारी जिम्मेदारी बेटे की होती है. समाज की अपेक्षा भी इसी विश्वास के इर्द गिर्द ही मंडराती है. लेकिन, इसके उलट असम से एक चौकाने वाली खबर सामने आई है. यहां कथित रूप से एक बेटे को पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने से रोका गया.

असम के विश्वनाथ जिले के गरेहगी गांव में रहने वाले रुपज्योति भट्टाचार्य के पिता का निधन हो गया था. रुपज्योति पिता के अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे. इसी बीच उनके परिजनों और गांव वालों ने उन्हें पिता का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया. रुपज्योति वहां मौजूद थे, लेकिन उनके पिता का अंतिम संस्कार और श्राद्ध चचेरे भाई ने किया. सोशल मीडिया पर भी इससे संबंधित पोस्ट वायरल हो रही है.

रुपज्योति ने न्यूज18 को बताया कि छह साल पहले उन्होंने अंतर जातीय विवाह किया था. तब से विश्वनाथ ब्राह्मण समाज ने उन्हें समाज निकाला कर दिया. पिता की मौत के बाद जब रुपज्योति घर लौटे तो उन्हें उम्मीद थी कि वह पिता का अंतिम संस्कार कर पाएंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. रुपज्योति ने कहा, 'मेरी मां के पास समाज का आदेश मानने के अलावा कोई दूसरा चारा नहीं बचा था. मैं सामने खड़ा था और चचेरा भाई पिता को मुखाग्नि दे रहा था. ये कहा का इंसाफ है?' बेटे ने विश्वनाथ ब्राह्मण समाज पर आरोप लगाया है जबकि मां ने इन आरोपों से इंकार किया है. फिलहाल असम में ये मुद्दा काफी छाया हुआ है.


(तूलिका देवी)

ये भी पढ़ें-

जानें: कौन हैं चुनावों में PM मोदी को चुनौती देने का ऐलान करने वाले चंद्रशेखर

..तो इस वजह से कांग्रेस पर इतनी हमलावर हैं बसपा सुप्रीमो मायावती

Loading...


भीम आर्मी चीफ से मुलाकात के बाद बोलीं प्रियंका, 'चंद्रशेखर की हर लड़ाई में उनके साथ हूं'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

Loading...

और भी देखें

Updated: February 28, 2019 09:00 PM ISTसोशल मीडिया पर मची सोनाक्षी सिन्हा के इस डांस VIDEO की धूम, अपने देखा?