प्रचार का शोर थमने के बाद घोषणापत्र जारी नहीं कर सकेंगी पार्टियां: चुनाव आयोग - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

प्रचार का शोर थमने के बाद घोषणापत्र जारी नहीं कर सकेंगी पार्टियां: चुनाव आयोग

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
प्रचार का शोर थमने के बाद घोषणापत्र जारी नहीं कर सकेंगी पार्टियां: चुनाव आयोग
प्रतीकात्मक फोटो
News18Hindi
Updated: March 16, 2019, 9:18 PM IST
आगामी लोकसभा चुनाव और भविष्य में होने वाले हर चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के लिए घोषणापत्र जारी करने की टाइमलाइन तय कर दी है. चुनाव आयोग ने फैसला दिया है कि रिप्रेजेंटेशन ऑफ पीपल एक्ट, 1951 के सेक्शन 126 के तहत निषेधात्मक अवधि के दौरान किसी भी चरण के चुनाव के लिए राजनीतिक दल घोषणापत्र जारी नहीं कर सकेंगे.

वोटिंग शुरू होने से 48 घंटे पहले निषेधात्मक अवधि शुरू हो जाती है. चुनावी आचार संहिता के मुताबिक, इस दौरान चुनावी प्रचार का शोर पूरी तरह थम जाता है और उम्मीदवार केवल डोर टू डोर कैम्पेन कर सकते हैं.

चुनाव आयोग ने यह साफ किया कि इस नियम का पालन भविष्य में होने वाले हर चुनाव चुनावी आचार संहिता के तहत किया जाएगा.


Loading...


इससे पहले कई मौकों पर देखा गया है कि राजनीतिक दलों ने ऐन वक्त पर यानी मतदान से कुछ घंटों पहले ही घोषणा पत्र जारी किए. आयोग के नए नियम के लागू होने के बाद राजनीतिक दल ऐसा नहीं कर सकेंगे. उन्हें किसी भी चरण की वोटिंग शुरू होने से 48 घंटे पहले ही घोषणा पत्र जारी करना होगा. एक चरण की निषेधात्मक अवधि में वे दूसरे या किसी और चरण के लिए घोषणा पत्र जारी नहीं कर सकेंगे.

बता दें कि चुनाव आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. मतदान की प्रक्रिया सात चरणों में पूरी होगी. पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को और आखिरी चरण की वोटिंग 19 मई को होगी. वोटों की गिनती 23 मई को होगी और इसी दिन नतीजे घोषित किए जाएंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...

और भी देखें