तीन टीमों से खेले और दो के कोच रहे खिलाड़ी का खुलासा- IPL में बेरहम कंपीटिशन, फाइनल में पहुंचाओ नहीं तो घर जाओ - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

तीन टीमों से खेले और दो के कोच रहे खिलाड़ी का खुलासा- IPL में बेरहम कंपीटिशन, फाइनल में पहुंचाओ नहीं तो घर जाओ

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर http://bit.ly/2EG1SuE
तीन टीमों से खेले और दो के कोच रहे खिलाड़ी का खुलासा- IPL में बेरहम कंपीटिशन, फाइनल में पहुंचाओ नहीं तो घर जाओ
आईपीएल ट्रॉफी. (FIle Photo: IPL/BCCI)
News18Hindi
Updated: April 6, 2019, 11:43 PM IST
आईपीएल की शुरुआत 2008 में हुई थी और अब इसका 12वां सीजन चल रहा है. टूर्नामेंट में कंपीटिशन काफी ज्‍यादा और टीम मालिक नतीजों को लेकर बेसब्र हैं. ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर और टीमों के कोच रहे ब्रेड हॉज इस बारे में खुलासा किया है. उन्‍होंने बताया कि अगर टीम फाइनल तक नहीं पहुंचती है तो बाहर का रास्‍ता दिखा दिया जाता है. उन्‍होंने क्रिकेट वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो को बताया, 'आईपीएल में कोच पर कोई रहम नहीं होता. यदि आप टीम को फाइनल तक नहीं पहुंचा पाते हें तो फिर सामान समेटिए और घर जाइए.'

हॉज आईपीएल में 2016 से 2018 के दौरान गुजरात लॉयंस और किंग्‍स इलेवन पंजाब के कोच थे. इससे पहले वे राजस्‍थान रॉयल्‍स और कोच्चि टस्‍कर्स केरल जैसी टीमों के लिए आईपीएल में खेल भी चुके हैं. वे 2013 में आईपीएल प्‍लेऑफ में जगह बनाने वाली राजस्‍थान रॉयल्‍स के सदस्‍य भी रहे थे. कोच रहते गुजरात लॉयंस की टीम को उन्‍होंने प्‍लेऑफ तक पहुंचाया था. हालांकि 2017 के आईपीएल में टीम पहले दौर से ही बाहर हो गई थी. इसके बाद 2018 में वे किंग्‍स इलेवन पंजाब के कोच बन गए थे. इस सीजन में पंजाब ने शुरुआती चरण में गजब का प्रदर्शन किया लेकिन आखिरी दौर में टीम फिसल गई और सातवें नंबर के साथ उसका सफर समाप्‍त हुआ.

हॉज अब किंग्‍स इलेवन पंजाब से अलग हो चुके हैं और अब वे कैरेबियन प्रीमियर लीग की टीम सेंट लुसिया स्‍टार्स के साथ जुड़े हुए हैं. उनका मानना है कि आईपीएल का माहौल दुनिया की बाकी टी20 लीग से काफी अलग हैं. उन्‍होंने कहा, 'यहां पर गलाकाट प्रतिस्‍पर्धा है. मैंने किंग्‍स इलेवन पंजाब के मालिकों से पूछा कि आपके हिसाब से कामयाबी क्‍या है? आपके हिसाब से क्‍या किया जाए? आपने पिछले 10 साल में आईपीएल नहीं जीता है इसलिए अगर मैं अगले साल नहीं जीत पाता हूं तो मुझे कैसे आंका जाएगा?'

धोनी ने मैच के दौरान लगाई डांट तो उतर गया बॉलर का चेहरा, आंखों में आ गए आंसू

ब्रेड हॉज. (Photo: IPL/BCCI)

ब्रेड हॉज ने आईपीएल की दो सबसे कामयाब टीमों चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स और मुंबई इंडियंस का उदाहरण देते हुए बताया कि इन्‍होंने लंबे समय के हिसाब से नीति बनाई और उसी का नतीजा उन्‍हें मिला है.

पानी पिला रहे इस खिलाड़ी को धोनी ने टीम में चुना, 4 छक्के लगाकर ठोक दिया अर्धशतक

Loading...


हॉज के अनुसार, 'मैंने किंग्‍स इलेवन पंजाब के मालिकों से पूछा कि आप 10 साल में कितने आईपीएल जीतना चाहते हैं? और मैंने सोचा कि जवाब तीन होना चाहिए. आप चाहें तो चेन्‍नई को देख लीजिए या फिर मुंबई को. इन टीमों ने तीन-तीन बार खिताब जीता है.'

बता दें कि आईपीएल में केवल स्‍टीफन फ्लेमिंग ही ऐसे कोच हैं जो शुरू से एक ही टीम के साथ जुड़े हुए हैं. वे 2009 में चेन्‍नई के कोच बने थे और अब भी इसी टीम के साथ हैं. वहीं टॉम मूडी 2013 से लेकर अभी तक सनराइजर्स हैदराबाद के साथ हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...

और भी देखें