सेना की जिस टीम ने देखे थे येती के पैरों के निशान, उसके सदस्य की मौत - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

सेना की जिस टीम ने देखे थे येती के पैरों के निशान, उसके सदस्य की मौत

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर http://bit.ly/2EG1SuE
सेना की जिस टीम ने देखे थे येती के पैरों के निशान, उसके सदस्य की मौत
फाइल फोटो
Sandeep Bol
Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 9:33 PM IST
दुनिया की पांचवीं सबसे ऊंची चोटी मकालू को फतह कर लौट रहे भारतीय सेना के एक जवान की मौत हो गई. सेना की यह टुकड़ी माउंट मकालू एक्सपीडिशन के लिए निकली थी. ये वही सेना के जवान थे जो कुछ दिन पहले दुनिया भर के अखबारों की सुर्खियां बने थे. इन जवानों ने येती के पैरों के निशानों को देखने का दावा करना था. जिसके बाद सेना ने तस्वीरें भी जारी की थीं जिसमें बड़े पंजों के निशानों को साफ देखा जा सकता था.

खराब मौसम बना जानलेवा
16 मई को भारतीय सेना के पर्वतारोही दल ने 8485 मीटर की ऊंचाई वाली दुनिया की पांचवीं सबसे ऊंची चोटी को फतह किया था. फतह करने के बाद जब दल वापस लौट रहा था तब मौसम बिगड़ गया. इस दौरान एक सदस्य की तबियत काफी खराब हो गई और उसकी मौत हो गई. मृतक सैनिक की पहचान नारायण सिंह के तौर पर हुई है जो उत्तराखंड के पिथौरागढ़ का रहने वाला है. नारायण ने 2002 में सेना ज्वाइन की थी. उल्लेखनीय है कि नारायण ने पिछले ही साल उत्तराखंड की दूसरी सबसे ऊंची चोटी माउंट कॉमेट को फतह किया था. नंदा देवी के बाद यह देश की सबसे ऊंची चोटी है जिसकी ऊंचाई 7756 मीटर है.

ये भी पढ़ें- Narendra Modi Speech Live Updates: PM मोदी की प्रेस कांफ्रेंस की खास बातें

पहली बार फतह किया माउंट मकालू
सेना का यह पहला पर्वतारोही दल है जिसने माउंट मकालू को फतह किया है. इस दल में सेना के 5 अधिकारी, 2 जेसीओ और 11 जवान शामिल हैं. इस मिशन में टीम के लीडर की तबियत पहले ही खराब हो जाने के बाद वे चोटी तक नहीं पहुंच सके थे. बाकी टीम ने ही इस मिशन को पूरा किया था.

ये भी पढ़ें- Narendra Modi Speech Live Updates: देश की जनता पहले से ज्यादा बढ़-चढ़कर आशीर्वाद दे रही है

Loading...


ये भी पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुझसे डिबेट क्‍यों नहीं की: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले राहुल गांधी
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

Loading...