वर्ल्ड कप: टीम इंडिया को क्या सबक मिले? जानें 10 प्वाइंट में - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

वर्ल्ड कप: टीम इंडिया को क्या सबक मिले? जानें 10 प्वाइंट में

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
वर्ल्ड कप से टीम इंडिया को क्या सबक मिले? जानें 10 प्वाइंट में
वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का सफर खत्म (फोटो-AP)
News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 12:34 PM IST
टीम इंडिया के वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद हार की समीक्षा शुरू हो गई है. सेमीफाइनल में टीम इंडिया ने एक के बाद एक कई गलतियां की. हार के बावजूद टीम इंडिया को कई सबक मिले हैं.

1.शिखर धवन के बाहर होने के चलते टीम इंडिया के लिए ओपनिंग में लेफ्ट-राइट का कॉम्बिनेशन टूट गया. धवन की जगह ओपनिंग करने वाले केएल राहुल विरोधी टीम पर दबाव बनाने में नाकाम रहे.

2.पूरे वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की फील्डिंग लाजवाब रही. खास कर रवींद्र जडेजा तो फील्डिंग के मोर्चे पर सबसे बड़े हीरो रहे. उन्होंने एक अनुमान के मुताबिक 41 रन बचाए. इसके अलावा उन्होंने बेहतरीन कैच भी लिए.
3. सेमीफाइनल को छोड़ दें तो टॉप ऑर्डर ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया. अकेले रोहित शर्मा ने 5 शतक लगाए. इसके अलावा विराट कोहली ने भी पांच पारियों में हाफ सेंचुरी लगाई.

4.मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज़ पूरे टूर्नामेंट में रनों के लिए जूझते नजर आए. रिषभ पंत से लेकर विजय शकंर और फिर केदार जाधव, हार्दिक पंड्या कोई भी बल्लेबाज़ दमदार पारी नहीं खेल सके. रिषभ पंत और पंड्या ने सेमीफाइनल में खराब शॉट खेल कर हर किसी को खासा निराश किया.
5. वर्ल्ड कप में टीम इंडिया नंबर चार को लेकर जूझती नजर आई. इस नंबर पर टीम इंडिया ने चार बल्लेबाजों को आजमाया लेकिन कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल सके. यहां तक की इस नंबर पर कोई भी भारतीय बल्लेबाज़ ने हाफ सेंचुरी भी नहीं लगाई.

फोटो- AP

Loading...


6.वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के स्पिनर्स ने बेहद खराब प्रदर्शन किया. खास कर कुलदीप यादव ने हर किसी को निराश किया. कुलदीप ने 7 मैचों में सिर्फ 6 विकेट लिए.
7. रवींद्र जडेजा को प्लेइंग इलेवन में काफी देर से मौका मिला. विराट ने उन्हें सिर्फ दो मैचों में खिलाया. उनकी इकॉनमी रेट शानदार 3.7 रही. अगर जडेजा को पहले मौका मिलता तो फिर बात कुछ और होती. लेकिन विराट ने कुलदीप और चहल के चक्कर में उन्हें शुरुआती मैचों से नजरअंदाज कर दिया.
8.कप्तान विराट कोहली ने धोनी का इस्तेमाल भी सही तरीके से नहीं किया. सेमीफाइनल में उन्हें काफी देर से बैटिंग के लिए उतारा गया. कई पूर्व क्रिकेटर भी ये कह रहे हैं कि धोनी को सेमीफाइनल में नंबर पांच पर उतारा जाना चाहिए था.
9. शुरुआती मैचों में शानदार प्रदर्शन करने वाले मोहम्मद शमी को विराट ने नजरअंदाज किया. जबकि शमी ने 4 मैचों में 14 विकेट लिए थे.
10. दिनेश कार्तिक और केदार जाधव को लेकर भी विराट कोहली सवालों के घेरे में रहेंगे.

ये भी पढ़ें:

 वर्ल्ड कप: इस वीडियो को देख कर न्यूजीलैंड ने भारत को हराया

क्यों कोच शास्त्री पर भड़के थे विराट? कप्तान ने दी ये सफाई

Loading...