समलैंगिक ने की खुदकुशी, लिखा- यहां किसी को गे न बनाए भगवान - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

समलैंगिक ने की खुदकुशी, लिखा- यहां किसी को गे न बनाए भगवान

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
तानों से तंग समलैंगिक ने की खुदकुशी, लिखा- भगवान भारत में किसी को गे मत बनाना
अविंशू पटेल के फेसबुक अकाउंट से.
News18Hindi
Updated: July 10, 2019, 1:07 PM IST
मुंबई के रहने वाले अविंशू पटेल ने जमाने से आहत होकर आत्महत्या कर ली है. उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि लोग उसपर ताने कसते हैं, उसे कई तरह से मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करते हैं. इसलिए उसने आत्महत्या को चुना. उसने लिखा कि उसकी मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है, लेकिन साथ ही उसने अंग्रेजी और हिन्दी दोनों में फेसबुक पर लंबा सुसाइड नोट लिखा.

बीच पर तैरती मिली थी लाश

चेन्नई के नीलंकरई बीच पर तीन जुलाई को एक नवयुवक की लाश मिली. खोजबीन करने पर पता चला कि इस शख्स का नाम अविंशू पटेल है. इसकी उम्र करीब 20 साल है. यह चेन्नई के स्पा में काम करता है. पुलिस ने बताया अविंशू ने बीच में कूद कर जान दी थी. पुलिस के मुताबिक अविंशू के दोस्तों से पूछताछ करने और उसके द्वारा फेसबुक पर लिखे गए पोस्ट से यह जाहिर होता है कि अविंशू समलैंगिक था. इसी वजह से वह मानसिक तौर पर परेशान भी रहता था. वह मुंबई का रहने वाला था. एक महीने पहले ही चेन्नई में नौकरी के लिए आया था.

avinshu patel

1750 शब्दों का सुसाइड नोट- मुझे छक्का बुलाया जाता है
अविंशू ने सोशल मीडिया में 1750 शब्दों का सुसाइड नोट लिखा है. इसमें उसने कई गंभीर बातें लिखी हैं. उसने लिखा, 'मेरा शरीर लड़के का है. लेकिन में लड़की की तरह चलता हूं. लड़कियों की तरह बोलता हूं. लड़कियों की तरह बर्ताव करता हूं. सारे लोग मुझे देखते हैं. मैंने कई बार कोशिश की कि मैं ऐसा ना करूं. लेकिन यह नैसर्गिक है, स्वाभाविक है. इसमें मेरी क्या गलती है कि मैं गे हूं.'

Loading...


घर वालों ने जबरन करा दी शादी
अव‌िंशू के दोस्तों और उसके सुसाइड से नोट से पता चलता है कि हाल ही उसकी शादी जबरन कराई गई थी. अविंशू लिखता है ‌कि मेरी पार्टनर मुझे गलत समझती है. लेकिन मैं उसके साथ असहज महसूस करता हूं. बल्कि कई बार मुझे वे सारे काम करने का मन होता है जो वो किया करती है.

'भगवान भारत में गे पैदा मत करना'
अविंशू ने अपने पोस्ट में लिखा, मैं दुनिया के उन देशों का बहुत सम्मान करता हूं जहां गे लोगों के साथ अच्छा सलूक किया जाता है. मैं भारत के उन लोगों का भी दिल से धन्यवाद और सम्मान करता हूं जो मेरे साथ अच्छा बर्ताव करते हैं. लेकिन सच्चाई ये है कि बहुत से लोग मुझसे नफरत करते हैं. पिछले साल भारत में धारा 377 के हटने के बाद भी एलजीबीटीक्यूआई लोगों से भारत में नफरत किया जाता है. इसलिए भगवान भारत में किसी को भी गे मत बनाना. क्योंकि अगर कोई ऐसा होता है तो केवल उसे ही नहीं उसके परिवार को भी गालियां दी जाती हैं.

गे समुदाय और सोशल मी‌डिया में हड़कंप
अविंशू की आत्महत्या और इसके कारणों के खुलासे के बाद सोशल मीड‌िया में चलने वाले ग्रुप्स में लगातार इस पर बहसे हो रही हैं. साथ ही असल दुनिया में गे समुदाय के लोग इस अविंशू की आत्महत्या को गंभीरता से ले रहे हैं. गे समुदाय के लिए मुखर रहने वाले कार्यकर्ता हरीश अय्यर ने इस पर तीखी टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि यह आत्महत्या नहीं बल्क‌ि भारत में आज भी व्याप्त नस्लभेद को दिखाता है. उनके अनुसार अविंशू को शर्मिंदा किया जाता था, तंग किया जाता था. इन सब चीजों से आहत होकर उसने आत्महत्या किया. किसी समाज के लिए यह सामान्य मामला नहीं हो सकता.

Loading...