पेड़ कटने के दो दिन बाद तक टूटे अंडों के पास बैठे रहे पक्षी, केस दर्ज - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

पेड़ कटने के दो दिन बाद तक टूटे अंडों के पास बैठे रहे पक्षी, केस दर्ज

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
केरल में पेड़ कटने के दो दिन बाद तक टूटे अंडों के पास बैठे रहे पक्षी, अधिकारी-ठेकेदार पर केस दर्ज
पलक्कड़ रेलवे स्टेशन परिसर पर लगे गुलमोहर के पेड़ को काट दिया गया था.

पेड़ काटे जाने से इसमें बने सौ से ज्यादा घोंसले टूट गए और उनमें मैजूद अंडे टूटकर जमीन पर बिखर गए. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पेड़ कटने के बाद प्रवासी पक्षी दो दिन तक वहीं बैठे रहे और अपने अंडों की तलाशते रहे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2019, 10:09 AM IST
  • Share this:
केरल. मुंबई (Mumbai) के गोरेगांव की आरे कॉलोनी (Aarey Colony) में दो हजार पेड़ काटे जाने के मामले ने पहले ही तूल पकड़ रखा था कि अब केरल (Kerala) से भी एक ऐसी ही घटना ने हर किसी को हैरान कर दिया है. केरल में पलक्कड़ रेलवे स्टेशन परिसर (Railway Station Complex) में स्थित एक गुलमोहर का पेड़ काटने के आरोप में रेलवे के अधिकारियों और ठेकेदार के ऊपर मामला दर्ज कराया है. दरअसल इस पेड़ पर 100 से ज्यादा प्रवासी पक्षियों (Migratory Birds) के घोंसले थे, जो पेड़ कटने से उजड़ गए.

बता दें कि एक अक्टूबर को पलक्कड़ रेलवे स्टेशन परिसर पर लगे गुलमोहर के पेड़ को काट दिया गया था. गुलमोहर का ये पेड़ काफी पुराना बताया जा रहा है. पेड़ काटे जाने से इसमें बने सौ से ज्यादा घोंसले टूट गए और उनमें मैजूद अंडे टूटकर जमीन पर बिखर गए. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पेड़ कटने के बाद प्रवासी पक्षी दो दिन तक वहीं बैठे रहे और अपने अंडों को तलाशते रहे.

Mumbai, Aarey Colony, Kerala, Railway Station Complex, Migratory Birds, Tree Cutting
केरल में पेड़ कटने के दो दिन बाद तक टूटे अंडों के पास बैठे रहे पक्षी

रेलवे परिसर में काटे गए पेड़ की खबर जब पर्यावरण कार्यकर्ता बोबन मट्टूमंथा को मिली तो उन्होंने इसकी सूचना वन विभाग को दे दी. सूचना के बाद मौके पर पहुंचे वालयाल रेंज के वन अधिकारियों ने रेलवे स्टेशन के अधिकारियों और पेड़ काटने वाले ठेकेदार पर मामला दर्ज कराया है. बोबन मट्टूमंथा ने बताया पेड़ काटने से पहले वन विभाग से अनुमति लेनी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया.

Mumbai, Aarey Colony, Kerala, Railway Station Complex, Migratory Birds, Tree Cutting
पेड़ दो दिनों तक रेलवे स्टेशन परिसर में पड़ा रहा और अंडे भी सड़क पर बिखरे रहे.

वीडियो में अंडों के सामने बैठे दिखे पक्षी
पेड़ दो दिनों तक रेलवे स्टेशन परिसर में पड़ा रहा और अंडे भी सड़क पर बिखरे रहे. बताया जाता है कि जिस जगह ये घटना हुई उसी के बगल में आरपीएफ का ऑफिस है, लेकिन किसी ने कुछ नहीं किया. खबर मिलने के बाद मौके पर पहुंचे वन विभाग के कर्मचारियों को अंडे के पास बैठे पक्षियों का वीडियो दिखाया गया. वन विभाग ने कई पक्षियों को घोंसलों से निकालकर दूसरी जगह पहुंचाया.

Loading...


Mumbai, Aarey Colony, Kerala, Railway Station Complex, Migratory Birds, Tree Cutting
किसी भी पेड़ का काटने से पहले वन विभाग की टीम को सूचना देनी होती है.

पेड़ काटने को लेकर क्या है नियम-कानून
दरअसल पक्षियों के प्रजनन काल के दौरान किसी भी पेड़ को काटने से पहले वन विभाग की टीम को सूचना देनी होती है. सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम उस जगह पहुंचती है और पेड़ का निरिक्षण करती है. जांच में देखा जाता है कि पेड़ पर मौजूद घोंसले में कोई अंडा तो नहीं है. इसके बाद ही उस पेड़ को काटने की इजाजत दी जाती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2019, 9:59 AM IST

Loading...