अब गांव में ही रहकर कर हो सकती है अच्छी कमाई, जानें क्या है ये बिज़नेस आईडिया? - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

अब गांव में ही रहकर कर हो सकती है अच्छी कमाई, जानें क्या है ये बिज़नेस आईडिया?

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
अब गांव में ही रहकर कर हो सकती है अच्छी कमाई, जानें क्या है ये बिज़नेस आईडिया?
खेती से होने रेसिड्यू फ्री फार्मिंग से होगी अच्छी कमाई

अगर आप भी किसी नए आईडिया (New Business Idea) के साथ बिज़नेस शुरू करने का प्लान कर रहे हैं तो ये खबर आपके लिए हैं.. यह आईडिया खेती से होने रेसिड्यू फ्री फार्मिंग के बारे में जिससे शुरू कर आप अच्छी कमाई कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 8:19 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप भी किसी नए आईडिया (New Business Idea) के साथ बिज़नेस शुरू करने का प्लान कर रहे हैं तो ये खबर आपके लिए हैं.. आज हम आपको एक खास बिज़नेस के बारे में, यह आईडिया खेती से होने रेसिड्यू फ्री फार्मिंग के बारे में जिससे शुरू कर आप अच्छी कमाई कर सकते हैं. 370 एकड़ में फैली इस खेती में होती है रेसिड्यू फ्री फार्मिंग यानि यहां पर फल और सब्जियों को सेहत को नुकसान पहुचने वाले केमिकल फर्टिलाइजर और प्रेस्टिसाइड के बिना उगाया जाता है.

नैसर्गिक प्रोसेस से उगाए इस प्योर प्रोड्युस को सिंथेटिक फूड वार्धक के बगैर EarthFood ब्रांड के तहत ग्राहकों को बेचा जाता है. सबसे पहले जानते है ऑर्गेनिक से अलग कैसे होती है अवशेष मुक्त खेती और इसे शुरू करने के लिए क्या जरुरी होता है. कंपनी के पास खुद की 100 एकड़ जमीन है जिसमें से 7 एकड़ जमीन पर खेती शुरू करते हुए अवशेष मुक्त वातावरण में प्रोड्युस का ट्रायल लिया गया, दो साल तक खेती के तकनीक और निकलने वाले उत्पाद पर रिसर्च किया. इस दौरान कई बाते नए से सीखने मिले जो कारोबार की बेहतरी के लिए आजमाई गई.

ये भी पढ़ें: किसानों के लिए खुशखबरी! सिर्फ 20 रुपये में ऐसे खत्म हो जाएगी पराली!

Earth Food इसे पर फोकस करते हुए खाने में शुद्धता को लेकर ग्राहकों को जागरूक करने की कोशिश में लगा है. इसिलिए Earth Food के प्रोडक्ट आप जो खाना खा रहे हो उसे कम से कम मानवीय स्पर्श और ज्यादा से ज्यादा साफ सुथरे तरीके से कंज्यूमर तक पहुंचा रही है.

हम भले ही रोड साइड वेंडर्स से कपड़े खरदने में हिचकिचाते है लेकिन जो फल सब्जियां हमें खानी है उसे सड़क के किनारे से ही खरीदा जाता है. दुर्भाग्य की बात है कि आज का ब्रांड जागरूक उपभोक्ता कृषि उत्पाद को लेकर बिलकुल सजग नहीं है.

कंपनी पुणे मुंबई और बंगलोर में ऑपरेशनल है, इन शहरों के बड़े रिटेलर्स के साथ स्टार बाजार, गोदरेज का जाल की टोकरी, आदित्य बिड़ला के मोर जैसे सुपरमार्केट रिटेलर्स से कंपनी का टाई अप earth Food का असली फायदा है इनके ग्लोबल जीएपी सर्टिफिकेट का. ब्रांडेड सब्जियों की एहमियत समझाते हुए ग्राहको को प्रोडक्ट की आदत लगाना कंपनी के लिए थोड़ा मुश्किल रहा लेकिन जिसने earth Food का स्वाद एकबार चखा वो ग्राहक रेगुलर बना. टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से हाजेनिक और बढ़िया क्वालिटी के प्रोडक्ट को ग्राहकों तक सही भाव में पहुंचाना भी जिम्मेदारी का काम रहा.

ये भी पढ़ें: रेलवे का बड़ा तोहफा! छठ पूजा पर दिल्ली से पटना के लिए आज से स्पेशल ट्रेन शुरू

Loading...


कंपनी ने  निवेशक सिद्धार्थ खिनवासारा से 6.4 करोड़ का फंड जुटाया. जो अब कंपनी में को फाउंडर के तौर पर काम कर रहे है, सिद्धार्थ ने गैर विनाशशील और डेयरी प्रोडक्ट में ब्रांड को एक्सपाड किया है. कंपनी इस साल के अंत तक अपने डेयर प्रोडक्ट में विस्तार, और Earth food को हैदराबाद लॉन्च करने की तैयारी में है इस वित्तीय वर्ष के अंत तक 15 करोड़ का टर्नओवर और हर महिने 100 टन प्रोड्यूस डिलीवर करने का लक्ष्य है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 7:35 AM IST

Loading...