Uber दुनियाभर में करेगी छंटनी! जानें भारत में कितनों की जाएगी नौकरी - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

Uber दुनियाभर में करेगी छंटनी! जानें भारत में कितनों की जाएगी नौकरी

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo
Uber दुनियाभर में करेगी छंटनी! जानें भारत में कितनों की जाएगी नौकरी
देश में ऑनलाइन कैब सर्विस प्रोवाइडर कंपनी उबर इंडिया (Uber India) 10 से 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करेगी

देश में ऑनलाइन कैब सर्विस प्रोवाइडर कंपनी उबर इंडिया (Uber India) 10 से 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करेगी. सैन फ्रांसिसको की राइडर हेलिंग कंपनी उबर दुनियाभर में 350 कर्मचारियों को नौकरी से निकालेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2019, 1:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में ऑनलाइन कैब सर्विस प्रोवाइडर कंपनी उबर इंडिया (Uber India) 10 से 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी (Lay Off) करेगी. सैन फ्रांसिसको की राइडर हेलिंग कंपनी (Ride-Hailing Company) उबर दुनियाभर में 350 कर्मचारियों को नौकरी से निकालेगी. ये छंटनी घाटा बढ़ने और ग्लोबल स्लोडाउन की वजह से की जा रही है.

छंटनी से फूड बिजनेस होगा प्रभावित
इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले के जानकारों का कहना है कि उबर इंडिया अपने 10 से 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करेगी. छंटनी की वजह से देश में उबर का बिजनेस प्रभावित होगा. उबर की ऑनलाइन फूड-डिलीवरी वर्टिकल उबर इट्स (UberEats) पर भी इसका असर होगा.

भारत में उबर के 350 से 400 कर्मचारी है. सोमवार को कंपनी ने कर्मचारियों को मेल कर बताया कि वह दुनियाभर में 350 कर्मचारियों की छंटनी कर रही है और 70 फीसदी छंटनी अमेरिका और कनाडा में होगी. उबर के सीईओ दारा खुसरोशाही इस महीने के अंत में भारत आने वाले हैं. लेकिन सूत्रों के मुताबिक उनकी यात्रा छंटनी से संबंधित नहीं है.

ये भी पढ़ें: PPF, NSC, सुकन्या समृद्धि समेत इन स्कीम में पैसा लगाने वालों के लिए खुशखबरी! अब घर बैठे होंगे ये सभी काम

दूसरी तिमाही में उबर को 36,920 करोड़ का घाटा
इस मामले के जानकार एक शख्स ने कहा कि उबर के बिजनेस में उबर इंडिया का 2 फीसदी का योगदान है, लेकिन देश में ज्यादा खर्च बढ़ने की वजह से कॉस्ट कटिंग की जा सकती है. वैश्विक स्तर पर साल 2019 की दूसरी तिमाही में उबर को 520 करोड़ डॉलर (36,920 करोड़ रुपये) का घाटा हुआ है, जबकि 2019 की पहली तिमाही में उबर को 370 करोड़ डॉलर (26,270 करोड़ रुपये) का घाटा हुआ था. कंपनी ने इस घाटे के लिए ड्राइवर एप्रिसिएशन पर खर्च किए गए 29.8 करोड़ डॉलर (2,115.8 करोड़ रुपये) के साथ-साथ कंपनी के इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग के साथ स्टॉक आधारित मुआवजे के खर्च के लिए 390 करोड़ डॉलर (27,690 करोड़ रुपये) को जिम्मेदार ठहराया है.

Loading...


उबर का बिजनेस सालाना लगातार नीचे गिरता जा रहा है. कंपनी ने जुलाई में पहली बार छंटनी की थी. उस समय मार्केटिंग और एनालिटिक्स टीम के लोगों को हटाया था. दूसरी बार छंटनी सितंबर में हुई लेकिन इसका असर भारत पर नहीं पड़ा. हालांकि इस दौरान प्रोडक्ट और टेक्नोलॉजी टीम में कटौती हुई.

ये भी पढ़ें: ICICI बैंक ने ग्राहकों को किया अलर्ट, अगर नहीं मानी सलाह तो खाली हो जाएगा खाता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 12:38 PM IST

Loading...