शतरंज के बारे में 10 ऐसी बातें जो ज्यादातर लोग नहीं जानते, एक बार जरूर जानें - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

शतरंज के बारे में 10 ऐसी बातें जो ज्यादातर लोग नहीं जानते, एक बार जरूर जानें

नमस्कार मित्रों आज आपका फिर से एक बार स्वागत है एक नए लेख में, शतरंज (चैस) दो खिलाड़ियों के बीच खेला जाने वाला एक बौद्धिक एवं मनोरंजक खेल है। किसी अज्ञात बुद्धि-शिरोमणि ने पाँचवीं-छठी सदी में यह खेल संसार के बुद्धिजीवियों को भेंट में दिया।
1. शतरंज का अविष्कार भारत में ही हुआ था।

2. पहला लाइट और डार्क कलर वाला चेस बोर्ड 1090 में यूरोप में बनाया गया था।
3. बोर्ड पर एक मैच में सबसे अधिक 5949 चालें हो सकती है।

4. शतरंज के प्रथम चार चालों को 3,18,97,95,64,000 प्रकार से चला जा सकता हैं।
5. “2nd World War” (1939 to 1945) के दौरान शतरंज के खिलाड़ियो ने कोड ब्रेकर की भूमिका निभाई थी।

6. साल 1951 में एलन टयूरिंग ने पहला ऐसा “Computer” बनाया था जिसमे चेस खेली जा सकती थी।

7. अंतरिक्ष और पृथ्वी के बीच पहला Chess गेम 9 जून, 1970 को खेला गया था। यह गेम ड्रा पर खत्म हुआ।

8. 1984 में खेले गए एक मैच में ब्रिटेन ने क्राउच को 43 बार चेक किया था जो अपने आप में एक “World Record” है।
9. एरिक नोपार्ट ने 1985 में 68 घंटे में रिकॉर्ड 500 मैच खेले थे। सभी मुकाबले 10-10 मिनट के हुए।

10. 1987 में आनंद भारत के पहले ग्रैंड मास्टर बने। आनंद 2000,2007,2008,2010 और 2012 में विश्व चैंपियन रहे।