अगर आप महाभारत को झूठ समझते हैं, तो देख लीजिए 5 असली सबूत - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

अगर आप महाभारत को झूठ समझते हैं, तो देख लीजिए 5 असली सबूत

कुछ लोगों का मानना है कि महाभारत एक काल्पनिक सोच है ना कि कोई इतिहास ऐसे लोगों के लिए मैं आज कुछ सबूत लेकर आया हूं जो महाभारत की सच्चाई को बयान करते हैं, तो चलिए शुरू करते हैं

5- अंगद की सच्चाई
महाभारत काल में इंद्रप्रस्थ के नाम से जाने वाली जगह आज हम “दिल्ली” के नाम से जानते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दे कुछ जगह ऐसी भी मौजूद है जो महाभारत काल में जिस नाम से जानी जाती थी वह नाम आज भी देखने को मिल जाते हैं जैसे:- कुरुक्षेत्र, द्वारिका, और बरनावा कुंती का सबसे बड़ा बेटा करण था जिन्हें अंगद का राजा कहा जाता है जो आज के समय में गोंडा जिले के नाम से विख्यात है।

4- कुरुक्षेत्र


पुरातत्व विशेषज्ञों के अनुसार कुरुक्षेत्र में होने की लड़ाई के कारण वहां की जमीन लाल हो चुकी थी विश्लेषकों का कहना है वहां पर तीर और भालों को जमीन के अंदर पाया गया था जब उनकी जांच की गई तो वह लगभग 2800 ईसवी पूर्व के बताए गए आपकी जानकारी के लिए बता दे यह जगह हरियाणा में मौजूद है।

3- महाभारत के छंदों का महत्व


महाभारत को काल्पनिक रूप बताना हमें शोभा नहीं देता है कहा जाता है कि महाभारत कई प्रकार के छंद लिखे गए थे जिन्हें पड़ने पर वह सिर्फ कविता की तरह लगती थी क्योंकि उस समय किसी भी चीज को कविता की भांति ही लिखा जाया करता था आपकी जानकारी के लिए बता दें गणित के फार्मूले भी कविता की तरह लिखे जाते थे।


2- लाक्षाग्रह


महाभारत के अनुसार लाक्षागृह की महत्वपूर्ण भूमिका मानी जाती है कौरवों ने पांडवों को दिए एक ग्रह बनवाया जिसका नाम लाक्षाग्रह रखा गया जिसमें कुंती सहित पांच पांडवों को जलाने की कोशिश की गई आज भी वह सुरंग आप बरनावा नामक स्थान पर देख सकते हैं।

1- द्वारिका नगरी


महाभारत के अनुसार भगवान श्री कृष्ण द्वारका नगरी के द्वारकाधीश दे और बताया गया है यह नगरी जलमग्न हो गई थी आपकी जानकारी के लिए बता दें गुजरात के पास मंदिर के नीचे एक पुराना शहर मिला है इसकी जान से मालूम पड़ता है कि यह वही द्वारका है जिसका उल्लेख महाभारत में किया गया है कहने वाले इन प्रमाणों को जरूर जाने।

महाभारत को काल्पनिक कहने वालों के बारे में आपका क्या कहना है कमेंट में जरूर बताएं और साथ ही “अच्छी न्यूज़” चैनल को फॉलो, पोस्ट को लाइक व्हाट्सएप, फेसबुक और अदर सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। धन्यवाद