राष्ट्रगान के समय बच्चों को साथ क्यों आते हैं खिलाड़ी? जानें बड़ी वजह - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

राष्ट्रगान के समय बच्चों को साथ क्यों आते हैं खिलाड़ी? जानें बड़ी वजह

आपने देखा होगा बड़े टूर्नामेंट जैसे वर्ल्डकप, चैंपियंस ट्रॉफी इत्यादि में मैच शुरू होने के ठीक पहले दोनों टीमों के खिलाडियों को छोटे छोटे बच्चो का हाथ पकड़ कर मैदान पर आते है. उसके बाद बारी बारी से दोनों टीमों का राष्ट्रगान होता है. यह प्रथा सबसे पहले फुटबॉल से शुरू हुई थी. अब अन्य खेलों ने भी इसे अपना लिया है.आमतौर पर यह बच्चें उसी देश , राज्य या शहर के होते है जहाँ मैच का आयोजन होता है।

अब आते है इसके कारण पर

पहला कारण: यह प्रथा अनाथ, वंचित बच्चों, NGO के बच्चों, असाधारण बच्चों के लिए शुरू की गई जिससे NGO को कुछ धन मिल जाये। जिनसे उनकी मदद हो सके. दूसरी बात यह भी है की वो बैक्जे बहुत सी चीजों से वंचित रह जाते है ऐसे में यह बहुत ही अच्छी प्रथा है. इतने भव्य समारोह में शामिल होकर बच्चे भी खुश होते है

दूसरा कारण: आपको पता होगा बच्चे मन के सच्चे होते हैं और उनके दिल में किसी प्रकार की ईर्ष्या नहीं होती. वो किसी बात को अपने दिल से लगा कर नहीं बैठते. ऐसे में उन बच्चों का खिलाडियों के साथ आने का मतलब यही रहता है की खिलाडी भी खेल भावना बनाये रखे अगर खेल के दौरान खटपट हो तो उसे दिल से न लगाए और बच्चों की तरह भूल जाये और दोस्ती बनाये रखे. ईमानदारी से खेले.