दीपक राज पर घिनौना आरोप और नृशंस हत्या खून के रिश्ते तारतार - AcchiNews.com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम

AcchiNews.Com अच्छी न्यूज़ डॉट कॉम is Hindi Motivational Inspirational quotes site here you can find all positive khabar in hindi.

Earn Money

दीपक राज पर घिनौना आरोप और नृशंस हत्या खून के रिश्ते तारतार

Mi सेल लगी मात्र 1 रुपये में कई प्रोडक्ट आपके हो सकते हैं अभी अप्लाई करो www.saleoffer.online Or पाइये paytm 1000 रुपये रिचार्ज आफर https://ift.tt/2OqCzSo

राकेश पाण्डेय

लखनऊ। इटावा जिले में शहर कोतवाली क्षेत्र के सती मोहल्ले में देर रात युवक की मूसल से सिर कूंचने के बाद गर्दन रेतकर हत्या कर दी गई। युवक की सगी बहन ने भाई के हत्या कुबूली है और उस पर बुरी नजर रखने का आरोप भी लगाया है। पुलिस वारदात में किसी और के भी शामिल होने का शक जताकर पड़ताल कर रही है।

युवक के बाबा की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने आरोपी बहन को गिरफ्तार कर लिया है। सती मोहल्ला निवासी दुकानदार विजय सिंह का बेटा दीपकराज (20) कंप्यूटर का कोर्स कर रहा था। 

मंगलवार शाम विजय पत्नी मायादेवी को लेकर ससुराल बेला गए थे।घर में दीपकराज उसकी छोटी बहन शशि (18) और 60 वर्षीय बाबा जगन्नाथ मौजूद थे।

60 वर्षीय दादा ने दी पुलिस को सूचना

जगन्नाथ ने देर रात पुलिस को दीपकराज के घायल होने की सूचना दी। पुलिस पहुंची तो दीपक खून से लथपथ फर्श पर पड़ा हुआ था। पुलिस उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंची जहां से सैफई चिकित्सा विवि रेफर किया गया। यहां पहुंचने पर डॉक्टरों ने दीपक को मृत घोषित कर दिया। 

आरोपी का बयान बन रहा आधार

सीओ सिटी वैभव पांडेय ने बताया कि पूछताछ में शशि ने कुबूला है कि दीपक उस पर बुरी नजर रखता था। इसे लेकर मंगलवार रात दोनों मे विवाद हुआ।

इमामदस्ते के मूसल से किया हमला

गुस्से में आकर उसने पहले इमामदस्ते के मूसल से दीपक के सिर पर वार किया, फिर हसिया से गर्दन रेतकर मार डाला। परिवार के अन्य सदस्य दीपक की ऐसी हरकतों से इनकार कर रहे हैं। सीओ का कहना है कि जगन्नाथ की तहरीर पर पहले हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया था जो हत्या में तरमीम कर लिया गया है।

खुले दरवाजे ने बढ़ा दिया शक का दायरा

सीओ ने बताया कि सूचना पाकर पुलिस पहुंची तो घर का मेन दरवाजा खुला हुआ था। अंदर फर्श पर खून से लथपथ दीपक तड़प रहा था। शशि और जगन्नाथ घर में मौजूद थे। उनका कहना है कि दीपक पर मूसल और धारदार हथियार से करीब दो दर्जन से ज्यादा वार किए गए थे।

काफी देर तक मौत से जूझता रहा मृतक

इससे साफ है कि हत्यारे और दीपक के बीच काफी देर तक संघर्ष हुआ होगा। आशंका है कि वारदात में शशि के साथ कोई भी शामिल है जो घटना के बाद फरार हो गया। उनका कहना है कि शशि और उसके कुछ परिचितों के नंबर सर्विलांस पर लेकर छानबीन की जा रही है।